प्रबन्धक का सन्देश

शुभ सन्देश : प्राचार्य

सन् 2007 ई0 में स्थापित डॉ. कनक त्रिपाठी डिग्री कॉलेज, भटहट, गोरखपुर (उ0प्र0) को चरगांवा ब्लाक का प्रथम महाविद्यालय होने का गौरव प्राप्त है। इसके प्रथम सत्र् में हिन्दी, अंग्रेजी, समाजशास्त्र, राजनीतिशास्त्र, शिक्षाशास्त्र, अर्थशास्त्र में कक्षायें प्रारम्भ हुई। स्थापना काल से लेकर आज तक महाविद्यालय ने उत्तरोत्तर विकास किया है। महाविद्यालय में अब स्नातक स्तर पर 10 विषयों जिनमें हिन्दी, अंग्रेजी, समाजशास्त्र, राजनीतिशास्त्र, शिक्षाशास्त्र, अर्थशास्त्र के अतिरिक्त सन् 2012 से संस्कृत, गृहविज्ञान, भूगोल, मध्यकालीन इतिहास की कक्षायें प्रारम्भ करने की प्रस्ताव हैं। इसके पश्चात एम.ए. एव ंबी.एड. की भी कक्षाएं प्रारम्भ करने का प्रस्ताव है। ऋग्वेद के सूत्र वाक्य ‘‘अग्ने नयं सुपथा’’ के स्वस्ति ब्याज के साथ मैं यह कह सकता हूँ कि ‘‘हे अग्नि तुम हमें सुपथ की ओर ले चलो।’’

अपने गौरवशाली अतीत को बनाये रखनें तथा समय और अभिनव परिस्थितियों और चुनौतियों के अनुकूल अपनें स्तर को बनाये रखने के लिए महाविद्यालय सदैव तत्पर है।

डा0 शैलेन्द्र कुमार उपाध्याय
(प्राचार्य)